sangrami lehar

शिक्षा बचाओ मंच की तरफ से धरना देने का ऐलान

  • 30/04/2018
  • 05:24 PM

रतिया - शिक्षा बचाओ मंच हरियाणा की मीटिंग रतिया किसान रेस्ट हाउस में हुई।जिसकी अध्यक्षता अमरजीत सिंह खालसा, HSU के प्रधान गुरतेज नागपुर ने की। जिसमें कि 134 के तहत मिलने वाले दाखिलों में प्राइवेट स्कूलों द्वारा मचाई जा रही लूट और मनमानियों पर चर्चा की गई निम्न फैसले लिए गए। 134 ए के तहत मिलने वाले दाखिलों को प्राइवेट स्कूलों की आनाकानी है दाखिले तुरंत प्रभाव से करवाई जाए। प्राइवेट स्कूलों में गरीब बच्चों को 134 ए के तहत फ्री दाखिला दिया जाए। प्राइवेट स्कूल की मनमर्जी की फीस बढ़ोतरी पर रोक लगाई जाए। प्राइवेट स्कूल सलाना फंड व और अन्य फंड लेना बंद करें। अकाल अकादमी स्कूलों में 25% गरीब बच्चों को कानून तहत दाखिला दिलवाया जाए। प्राइवेट स्कूलों में NCERT की किताबें लागू की जाए। प्राइीवेट स्कूलों व संस्था के स्कूलों में बच्चों की फीस का बोर्ड स्कूल के बाहर लगा होना चाहिए। प्राइवेट स्कूलों में लगे अध्यापकों की तनख्वाह डीसी रेट की जाए व इस में हो रही धांधली को बंद किया जाए। प्राइवेट स्कूलों में 134 के तहत कितनी सीटें खाली हैं और वर्षों के अनुसार बोर्ड पर लगी होनी चाहिए। सभी प्राइवेट स्कूलों का कानून के तहत रिकॉर्ड चेक किया जाए। DAV स्कूल में लगातार पढ़ने वाले बच्चों से हर साल बिल्डिंग फंड व सलाना खर्च के नाम पर जो पैसा लिया जा रहा है उसे तुरंत बंद करवाया जाए। सभी स्कूलों में RO युक्त साफ पानी का प्रबंध किया जाए। प्राइवेट स्कूलों में 134 के तहत होने वाले दाखिलों की जो अनुदान सरकार के द्वारा प्राइवेट स्कूलों को दिया जाता है वह नियमित रूप से दिया जाए जिससे प्राइवेट स्कूलों में 134 ए के तहत बच्चों को दाखिला देने में आसानी हो। प्राइवेट स्कूलों की वैन में कंडक्टर में लेडीज स्टाफ का होना जरूरी किया जाए। सरकारी स्कूलों में खेल स्टेडियम बेस्ट कोर्स के लिए टीचर रखे जाएं।

मीटिंग में फैसला लिया गया कि अगर 134 के तहत पास हुए बच्चों को स्कूलों में जल्द दाखिला ना दिया गया तो 7 मई को BEO दफ्तर रतिया में शिक्षा बचाओ मंच की तरफ से धरना दिया जाएगा। मंच इन सब मांगों को लेकर लोगों को जागरूक करेगा और इस आंदोलन को और तेज करेगा।

मीटिंग में मौजूद रहे गुरचरण सिंह, मनजीत अलीका, निर्भय रतिया,सतपाल रतिया, मनदीप नथवान, जोगिंदर सिंह, रमेश कलोठा, जसवीर सिह, सुखविंदर सिंह, विजय सिंह, परमिंदर अली का शम्मी जगबीर सिंह, रवि रतिया, सरदारा सिंह महमडा, गुरमीत सिंह, संदीप सिंह, राकेश कुमार, धनपत सिंह हाजर थे।